किसानों को होने वाला है बहुत बड़ा फायदा गन्ने से अब इथेनॉल बनाने की हुई अहम बैठक | ethanol kya hai | ethanol kya hai in hindi | इथेनॉल क्या है

किसानों को होने वाला है बहुत बड़ा फायदा गन्ने से अब इथेनॉल बनाने की हुई अहम बैठक

इथेनॉल क्या है


खाद्य सचिव सुधांशु पांडे की अध्यक्षता में एथेनाल बनाने को लेकर एक बहुत बड़ी अहम बैठक हुई है इस बैठक में एथेनॉल प्लांट लगाने वाली कंपनियों को आसान शर्तों पर लोन उपलब्ध कराने को लेकर बातचीत हुई है और साथ में चीनी मिलों को राहत देने के लिए भी बातचीत हुई जिसमें हम आपको बता दें कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने साल 2022 तक पेट्रोल में 10 फीसदी इथेनॉल मिलाने को लेकर कहा है और 2025 तक पेट्रोल में 10 फ़ीसदी बढ़ाने की योजना बनाई जा रही है।

इथेनॉल प्लांट  वाली कंपनियों को सस्ते दरों पर कर्ज देने की योजना बनाई जा रही है और सरकार की तरफ से बनाए गए शुगर डेवलपमेंट फंड की स्टैंडिंग कमेटी नहीं 2 फेस 3 सस्ता कर्ज देने की गुहार लगाई है । केंद्र सरकार ने पिछले कुछ महीनों से 418 एथेनाल प्रोजेक्ट को सहमति दे दी है ।


  इथेनॉल(Ethanol)क्या है?

साधारण भाषा में कहें तो इथेनॉल (Ethanol) एक प्रसिद्ध अल्कोहल है। इसे एथिल अल्कोहल भी कहते हैं। इसे  पेट्रोल में मिलाकर गाड़ियों में फ्यूल की तरह काम करता है यह गन्ने से तैयार किया जाता है तथा या शर्करा वाली कई अन्य फसलों से भी इसे तैयार किया जा सकता है।

Read all- आधार कार्ड गायब हो गया है और मोबाइल नंबर भी आधार कार्ड में नहीं लगा है तो किस तरह से प्राप्त करें दूसरा आधार कार्ड

इथेनॉल (Ethanol) को गन्ने से उत्पादन किया जाता है लेकिन अब सरकार इसे चावल से उत्पादन करने की योजनाएं बना रही है और इसे पेट्रोल में मिलाकर 35 फ़ीसदी तक कार्बन मोनोऑक्साइड को कम किया जाता है और इसे सल्फर डाइऑक्साइड के नाम से भी जाना जाता है इससे भारत की आम जनता को प्रदूषण से भी राहत मिलेगा ।


 केंद्र सरकार की क्या है तैयारी

केंद्र सरकार ने 5 सालों में इथेनॉल (Ethanol) के खरीददारी की योजना बनाई है और इथेनॉल (Ethanol) का उत्पादन बढ़ने से भारत के गन्ना किसानों को भी इससे बहुत फायदा होगा क्योंकि चीनी मिल फैक्ट्री यों के पास आसानी से पैसा उपलब्ध हो जाएगा और साथ में चीनी से निर्भरता भी कम होगी । और किसानों को कोई भी समस्या नहीं होगी। और यह गन्ने से तैयार होता है

Read all- आधार कार्ड से संबंधित अब हर सवाल पाने के लिए UIDAI ने शुरू की है एक नई नीति

Post a Comment

0 Comments